पीएम मोदी बोले- उड्डयन नीति से बरसेंगी नौकरियां, टूरिज्म भी बढ़ेगा-PM Narendra Modi

0
337
Vadnagar: Prime Minister Narendra Modi addresses a public meeting in his home town Vadnagar on Sunday. PTI Photo / PIB(PTI10_8_2017_000135A)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  आज शाम मुंबई पहुंचे. यहां उन्होंने सबसे पहले नवी मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट की आधारशिला रखी. इस दौरान उन्होंने कहा कि कई सरकारें आई होंगी, लेकिन एयरपोर्ट नहीं बन सका. उन्होंने कहा कि इसके पीछे सरकार के काम करने के तौर तरीके सबसे बड़ी बात है.

पीएम मोदी ने कहा, ‘पुरानी सरकारों का स्वभाव लटकाना, अटकना और भटकना था. करीब-करीब 10 लाख करोड़ के प्रोजेक्ट्स ऐसे ही लटके, अटके, भटके हुए थे. उनको हमने कार्यान्वित किया, धन का प्रबंध किया और आज तेज गति से वो काम आगे चल रहे हैं. उसी में से एक नवी मुंबई एयरपोर्ट का काम है.’

इसके बाद पीएम मोदी बांद्रा-कुर्ला कांप्लेक्स स्थित एमएमआरडीए मैदान में मेगा ग्लोबल निवेशक सम्मेलन मैग्नेटिक महाराष्ट्र कन्वर्जेंस 2018 का उद्घाटन करेंगे. इस दौरान पीएम चुनिंदा बड़ी कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (सीईओ) से भी विचार विमर्श करेंगे. महाराष्ट्र सरकार ने 18 से 20 फरवरी तक चलने वाले मैग्नेटिक महाराष्ट्र कन्वर्जेंस 2018 के माध्यम से 10 लाख करोड़ रुपये के निवेश का लक्ष्य रखा है. इस सम्मेलन के दौरान 4,500 करार किए जाने की संभावना है. कहा जा रहा है इस करार से राज्य में तकरीबन 35 लाख नए रोजगार पैदा होंगे.

JPSC Notification 2018: 386 पदों पर निकली हैं भर्तियां, ऐसे करें आवेदन

रोजगार पर फोकस

अभी तक महाराष्ट्र सरकार का पूरा ध्यान सिर्फ और सिर्फ निवेश आकर्षित करने पर रहा है, लेकिन इस बार राज्य सरकार इस तरह के निवेश पर जोर देगी जिससे अधिक से अधिक रोजगार के अवसरों का सृजन किया जा सके.

16700 करोड़ का एयरपोर्ट

बताते चलें कि 16700 करोड़ रुपये की लागत से नवी मुंबई एयरपोर्ट तैयार होगा. 21 साल से इस एयरपोर्ट का सपना देखा जा रहा था. मुंबई की बढ़ती जरूरतों को पूरा करने के लिए 1997 में 3000 करोड़ रुपये से एक अन्य हवाई अड्डे की योजना बनी थी, लेकिन राजनीतिक अनिर्णय की स्थिति, पर्यावरण अनापत्तियों और फंडिंग के मुद्दों समेत कई कारणों से इस परियोजना में देरी हुई.

इस हवाई अड्डे के लिए जरूरी 2,268 हेक्टेयर जमीन अब तक पूरी अधिग्रहीत नहीं हुई है. इसके बन जाने से मुंबई के छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर दबाव काफी कम हो जाएगा.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें। |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here